अग्निपथ योजना: कंगना रनौत ने किया सरकार का समर्थन, गुरुकुल से कर दी तुलना

बॉलीवुड की कंट्रोवर्शियल और ड्रामा क्वीन कही जाने वाली कंगना रनौत अपने खुद के दम पर मुकाम हासिल किया है। कंगना रनौत की पिछले कुछ समय से हालत खराब चल रही है क्योंकि उनकी बड़े बजट की फिल्म धाकड़ बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह फ्लॉप साबित हुई। इस फिल्म ने पहले दिन मात्र ₹5000000 की ओपनिंग की थी। इसके बाद पूरी तरह से डूब गई। काफी जगह तो इस फिल्म को 3 से 4 दिनों के भीतर ही सिनेमाघर से हटा दिया गया।

धाकड़ फिल्म के फ्लॉप होने के बाद अब कंगना रनौत को एक और बड़ा झटका लगा है। खबर के अनुसार कंगना रनौत की फिल्म फ्लॉप होने के बाद में कर्ज को भारी नुकसान चुकाना पड़ा है। फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अब तक का सबसे प्रदर्शन खराब किया। करीब 100 करोड़ के बजट में बनी इस फिल्म ने लोगों को भारी नुकसान पहुंचाया है। इन दिनों एक बार फिर से कंगना रनौत अपनी नई बात की वजह से चर्चा में आ गई है दरअसल उन्होंने सरकार की अग्निपथ योजना का समर्थन किया है।

एक्ट्रेस कंगना रनौत हमेशा से अपनी बेबाकी को लेकर सुर्खियों में रहती हैं। तीन तलाक से लेकर कृषि कानून तक कंगना रनौत ने हमेशा हर मुद्दे पर खुलकर बात की है। वहीं, अब एक बार फिर कंगना सरकार का समर्थन करती हुई नजर आ रही हैं. दरअसल, हाल ही में मोदी सरकार ने ‘अग्निपथ योजना’ की अनाउंसमेंट की है जिस पर कंगना रनौत ने अपनी राय रखी है और इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया है।

कंगना ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर लिखा, ‘इजरायल जैसे कई देशों ने यंग लोगों के लिए सेना की ट्रेनिंग को अनिवार्य कर दिया है. वहां हर कोई कुछ साल आर्मी के अनुशासन और राष्ट्रवाद जैसे मूल्यों को सीखने के लिए देता है। आर्मी का मतलब केवल करियर बनाना, रोजगार पाना या फिर पैसा कमाना ही नहीं है। कंगना ने ‘अग्निपथ योजना’ की तुलना प्राचीनकाल के गुरुकुल से की। आगे लिखा ‘पुराने वक्त में सब गुरुकुल जाते थे. ये ऐसा है जैसे उन्हें ऐसा करने के लिए पैसा मिल रहा है। ड्रग्स और पबजी की वजह से बर्बाद हो रहे यंग लोगों को इसकी जरूरत है। गौरतलब है कि सरकार की इस योजना के खिलाफ पूरे देश में अलग-अलग जगह पर प्रदर्शन किए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.