यह 5 तमिल फिल्में बॉलीवुड फिल्मों से भी रही सबसे आगे, हिंदी डबिंग में दी है सबको मात

भारतीय सिनेमा जगत में आज का समय बॉलीवुड के लिए काफी क्रिटिकल चल रहा है। जहां बॉलीवुड की फिल्में ज्यादा अच्छा कमाल नहीं कर पा रही है, वही साउथ इंडस्ट्री की फिल्में लगातार सफल होती नजर आ रही हैं, जहां पिछले कुछ समय में बहुत सारी साउथ इंडस्ट्री की फिल्में सुपरहिट रही हैं। आज आपको ऐसी ही पांच तमिल फिल्मों के बारे में बताते हैं जिन्हें हिंदी में डब करके बॉलीवुड फिल्मों को भी काफी पीछे छोड़ दिया।

कबाली

रजनीकांत की भारतीय सिनेमा के ही सबसे बड़े सुपरस्टार माने जाते हैं। जहां साउथ इंडस्ट्री में उन्हें एक भगवान की तरह पूजा जाता है। खास बात यह भी है कि रजनीकांत की फैन फॉलोइंग इतनी अधिक है कि साउथ में उनके नाम का मंदिर तक बना हुआ है। उनकी फिल्म का क्रेज हर भाषा के फैंस के बीच देखने को मिलता है। 2016 में आई कबाली को भी लोगों का भरपूर प्यार मिला था।

एंथिरन (रोबोट)

इस फिल्म ने हिंदी डबिंग की वजह से काफी सफलता हासिल की थी। एस शंकर द्वारा निर्देशित यह फिल्म 2010 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म में मुख्य भूमिका रजनीकांत ने निभाई थी। वह इस फिल्म में डबल रोल में नजर आये थे। यह कहानी एक ऐसे रोबोट की है, जिसमें इंसानों की तरह फीलिंग्स होती हैं। अंत में यही चीज़े विनाश का कारण बन जाती हैं।

शिवाजी : द बॉस

बॉलीवुड में शिवाजी के नाम से रिलीज हुई इस फिल्म को काफी पसंद किया गया था। यह एस. शंकर द्वारा निर्देशित है और वर्ष 2007 में रिलीज़ हुई थी। यह फिल्म एक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट पर आधारित है जो जरूरतमंदों और गरीबों की मदद के लिए भ्रष्ट व्यवस्था से लड़ता है। इस फिल्म में रजनीकांत के रोल को देखकर हर कोई उनका दीवाना हो गया था।

बॉम्बे

बॉम्बे 1995 में आई मणिरत्नम द्वारा निर्देशित तमिल फिल्म थी। इसमें मनीषा कोइराला और अरविंद स्वामी ने मुख्य भूमिका निभाई थी। इस फिल्म की कहानी दो प्यार करने वालों पर थी, जो अलग-अलग धर्म के हैं।

रोजा

इस फिल्म ने अपनी अलग कहानी की वजह से काफी सुर्खियां बटोरी थी। इसमें भारत में आतंकी हमले के खतरे के बीच फिल्म के लीड्स के बीच रोमांस दिखाया गया है। रोजा एक मासूम लड़की है जिसकी नई – नई शादी हुई होती है और उसके पति को पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा अपहरण कर लिया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.