विनोद खन्ना और फिरोज खान की दोस्ती थी बेमिसाल, दोनों ने एक ही दिन ली अंतिम सांस

बॉलीवुड इंडस्ट्री के दो दिग्गज कलाकार विनोद खन्ना और फिरोज खान आज इस दुनिया में मौजूद नहीं है, लेकिन उनके चाहने वालों के लिए आज भी उनका वर्चस्व बचा हुआ है। आपको बता दें कि यह दोनों कलाकार एक दूसरे के घनिष्ठ मित्र थे। दोनों को काफी बार एक दूसरे के साथ देखा गया था। कुछ अभिनेताओं के बीच ऐसी बॉन्डिंग हो जाती है कि जिसे जमाना याद रखने को मजबूर हो जाता है, ऐसे ही बॉलीवुड में एक बॉन्डिंग विनोद खन्ना, फिरोज खान के बीच में थी। आज आपको इनके बारे में कुछ खास बातें बताते हैं।

विनोद खन्ना और फिरोज खान के बीच की दोस्ती बॉलीवुड में एक मिसाल मानी जाती है। हालांकि बहुत कम लोगों को मालूम है कि उनके बीच इतनी गहरी दोस्ती थी। खास बात यह भी है कि दोनों ने एक ही तारीख को अंतिम सांस ली थी, जिससे उनके दोस्ती लोगों के लिए यादगार बन गई। दोनों के बीच दोस्ती 1976 में आई फिल्म “शंकर शंभू” के सेट पर शुरू हुई थी। इसके बाद उन्हें फिल्म 1980 में कुर्बानी में और फिल्म दयावान में एक साथ काम करते हुए देखा गया था।

इन दोनों कलाकारों के बीच की बॉन्डिंग देखकर हर कोई दीवाना हो जाता है। दोनों ने काफी बार फिल्म में साथ काम किया और इन फिल्मों के डायरेक्टर और प्रोड्यूसर भी फिरोज खान ही रहे है। इन दोनों कलाकारों की दोस्ती की एक अलग ही मिसाल है दोनों ने अपनी पत्नी से 1 साल में ही तलाक लिया था। बता दे, विनोद खन्ना ने साल 1971 में गीतांजलि से रचाई गई थी। इन को दो बेटे हुए थे जिनका नाम अक्षय और राहुल हैं जो बॉलीवुड के सबसे जाने-माने एक्टर हैं।

14 सालों की शादी को निभाने के बाद विनोद ने साल 1985 में ही अपनी पत्नी गीतांजलि से सहमति से तलाक लिया था। फिरोज खान ने भी इसी साल पत्नी सुंदरी से तलाक लिया गया था। अभिनेता फिरोज खान का निधन 27 अप्रैल 2009 को हुआ था, वही 8 साल बाद विनोद खन्ना ने भी 27 अप्रैल 2017 को अपनी आखिरी सांसें ली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.