कोहली ने कहा धोनी आए तो जोश बढ़ गया।

कोहली ने कहा धोनी आए तो जोश बढ़ गया।

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने T-20 वर्ल्ड कप से पहले टीम के बारे में उठने वाले हर जवाब दे दिया है। उन्होंने वर्ल्ड कप के पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस करके टीम के चयन, महेंद्र सिंह धोनी के मेंटर बनने और IPL में हार के बारे में हर सवाल के जवाब दिए।विराट ने बताया कि युजवेंद्र चहल को टीम से बाहर रखने का फैसला सबसे कठिन था। लेकिन टीम मैनेजमेंट और सेलेक्टर्स दोनों ही इस पक्ष में थे कि टीम में राहुल चाहर को रखना है। जब राहुल को टीम के अंदर रखा जा रहा था तब चहल के लिए जगह नही बची।

कोहली ने बताया कि मैनेजमेंट और चयनकर्ताओं ने दोनों के हालिया बॉलिंग के ‌रिकॉर्ड देखे और पाया कि राहुल चाहर ज्यादा प्रभावशाली बॉलिंग कर रहे हैं। इसलिए उन्हें टीम में रखना ज्यादा उपयोगी साबित हो सकता है।कोहली ने बताया कि मैनेजमेंट और चयनकर्ताओं ने दोनों के हालिया बॉलिंग के ‌रिकॉर्ड देखे और पाया कि राहुल चाहर ज्यादा प्रभावशाली बॉलिंग कर रहे हैं।

 

इसलिए उन्हें टीम में रखना ज्यादा उपयोगी साबित हो सकता है।वर्ल्ड कप टीम के ऐलान होने के बाद से आर अश्विन और भुवनेश्वर कुमार के सेलेक्‍शन पर सवाल उठ रहे थे। इसलिए प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी पूछे गए। इस पर कोहली ने कहा कि अश्‍विन का सेलेक्‍शन इस आधार पर किया गया कि वो सफेद बॉल आने के बाद से काफी अच्छा कर रहे हैं। फिर जडेजा के साथ एक अनुभवी‌ स्पिनर की दरकार थी जिसके लिए अश्व‌िन बेहतर नाम कोई नहीं था।

 

भुवनेश्वर कुमार को चुनने के पीछे की वजह उनकी किफायती बॉलिंग है। कोहली ने कहा कि भुवी ने लगातार किफायती बॉलिंग है। उन्होंने इसका नजारा कोहली की IPL टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ एक मैच के लास्ट ओवर में एबी डिविलियर्स के सामने बॉलिंग करते हुए साबित किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.